5 बन्नी लोकगीत बोल(Heart touching Bride Lokgeet Lyrics in Hindi)

यहाँ पर आपको शादी विवाह में गाए जाने वाले कुछ दिल को छू लेने वाले लोकगीत के बोल दिए गए , जिसे याद करके आप किसी के भी शादी में गा सकते हैं, तो चलिए सिखते हैं लोकगीत के बोल….

5 जन्माष्टमी भजन लोकगीत बोल (Lord Krishna Bhajan Folk song Lyrics)

तुम तो बन्नी हिना हो, मेहंदी क्या लगाओगी
सुबह की पहली गाड़ी से ससुराल चली जाओगी….2

जब तुम्हे अकेले में मम्मी याद आएँगी….2
सास जी का प्यार पाके, मम्मी भूल जाओगी….2
तुम तो बन्नी हिना हो… ससुराल चली जाओगी….2

जब तुम्हे अकेले में पापा याद आएंगे ….2
ससुर जी का प्यार पाके, पापा भूल जाओगी….2
तुम तो बन्नी हिना हो… ससुराल चली जाओगी….2

जब तुम्हे अकेले में बहना याद आएँगी….2
ननद जी का प्यार पाके, बहना भूल जाओगी….2
तुम तो बन्नी हिना हो… ससुराल चली जाओगी….2

5 भोले बाबा भजन गीत (Lord Shiva Bhajan Lyrics in Hindi)

ब्रह्मा ने सृष्टि रचाई न होती
तो मायके से मेरी बिदाई न होती….2

बाबा ने वर को ढूढ़ा, व्याह रचाया ….2
उसी वर ने आके सिंदूर लगाया ….2
अगर वर ने सिंदूर लगाई न होती,
तो मायके से मेरी बिदाई न होती….2
ब्रह्मा ने सृष्टि ….तो मायके से ….2

पापा ने वर को ढूढ़ा, व्याह रचाया ….2
उसी वर ने आके सिंदूर लगाया ….2
अगर वर ने सिंदूर लगाई न होती,
तो मायके से मेरी बिदाई न होती….2
ब्रह्मा ने सृष्टि ….तो मायके से ….2

चाचा ने वर को ढूढ़ा, व्याह रचाया ….2
उसी वर ने आके सिंदूर लगाया ….2
अगर वर ने सिंदूर लगाई न होती,
तो मायके से मेरी बिदाई न होती….2
ब्रह्मा ने सृष्टि ….तो मायके से ….2

तारीफ उनकी मुमकिन ही नहीं ( Poem for Father in Hindi)

बन्नी व्याह तुम्हारा रचाया
सजन तुम्हें ले जायेंगे…2

मैं तो बाबा के गोद छुप जाउंगी
मैं तो दादी के गोद छुप जाउंगी
जब किसी को भी नज़र न आउ
सजन कैसे ले जायेंगे…2
बन्नी व्याह तुम्हारा …सजन तुम्हें ले जायेंगे…2

मैं तो पापा के गोद छुप जाउंगी
मैं तो मम्मी के गोद छुप जाउंगी
जब किसी को भी नज़र न आउ
सजन कैसे ले जायेंगे…2
बन्नी व्याह तुम्हारा …सजन तुम्हें ले जायेंगे…2

मैं तो ताऊ के गोद छुप जाउंगी
मैं तो ताई के गोद छुप जाउंगी
जब किसी को भी नज़र न आउ
सजन कैसे ले जायेंगे…2
बन्नी व्याह तुम्हारा …सजन तुम्हें ले जायेंगे…2

5 गणपति भजन लोकगीत बोल (Lord Ganesha Bhajan Folk song Lyrics)

द्वारे बिच गाडी, तू रख दे रे ड्राइवर
हमरो लगन बड़ी तेज ..2

मम्मी के कंधे पे चुनरी भीगत हैं
पापा नयन भर ले…
द्वारे बिच गाडी….हमरो लगन बड़ी तेज …2

चाचा के कंधे पे चुनरी भीगत हैं
चाची नयन भर ले…
द्वारे बिच गाडी….हमरो लगन बड़ी तेज …2

भाभी के कंधे पे चुनरी भीगत हैं
भइया नयन भर ले…
द्वारे बिच गाडी….हमरो लगन बड़ी तेज …2

5 जन्माष्टमी भजन लोकगीत बोल (Lord Krishna Bhajan Folk song Lyrics)

बाबुल का ये घर बन्नी, कुछ दिन का ठिकाना हैं …2
छोड़ घर बाबुल का, तुम्हे पिया घर जाना हैं …2

बन्नी अपने बाबुल के, घर की कली हैं तू …2
बनकर के फूल तुझको, घर पिया का महकाना हैं
बाबुल का ये घर बन्नी…छोड़ घर बाबुल …2

बन्नी अपने मइया के, आँचल की गुड़िया हैं तू …2
संस्कार और प्यार से, रिश्तो को निभाना हैं
बाबुल का ये घर बन्नी…छोड़ घर बाबुल …2

बन्नी अपने भइया के, आँगन की चिड़िया हैं तू …2
अपनी मधुर कुक से, घर पिया का चहकाना हैं
बाबुल का ये घर बन्नी…छोड़ घर बाबुल …2

बन्नी अपने बहना के, हसी और ख़ुशी हैं तू …2
छोटी- बड़ी खुशियों से , घर पिया का सजाना हैं
बाबुल का ये घर बन्नी…छोड़ घर बाबुल …2

क्या खूब बजाते हो कान्हा तुम बांसुरिया-Janmashtami Special Poem in Hindi

Default image
Rishika Singh
Articles: 30

Newsletter Updates

Enter your email address below to subscribe to our newsletter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.